Videos

Apple nutrition speech sh .dimple panjta ggg at saras..



Seb ke poshak tatva ki kuch vishesh jaaankaari

Tags
Show More

Related Articles

30 Comments

  1. Dimple bhai mai ap ka bhut bda fan hu sirf ap ko bhut hai u tube mai . mai sirf ap ki baat manta hu . smj aata h schai koi log business ki side say bolte h sb smj aata h aaj pde likhe log hai per ap bhut honest hai . ap ki vo baat bhut achi lgi India m sirf lal seb bikte hai faltu ki variety k bakaho m mt aaho.

  2. और हॉ, चूने की स्प्रे से बेहतर है मिट्टी में चूना डाला जाए।
    ईटली की बात करना फिजूल है क्योंकि वहाँ का वातावरण हमसे बहुत अलग है।
    हमारे देश में सभी माईक्रो न्यूट्रिएंटस भरपूर मात्रा में है यदि हम रसायनिक खाद को छोड़कर जैविक में आ जाए।
    जैविक भी खरीदकर नहीं करनी बल्कि घर में खुद बनानी है।
    वर्मी कंपोस्ट, वर्मी वॉश, अमृत जल, कैंचुआ खाद, स्लरी, उपलों का पानी आदि।
    फिर देखिए चमत्कार होगा आपके बगीचे में।
    💪💪💪

  3. भाई तने में चूना इसलिए लगाया जाता है क्योंकि जब मार्च में रस पौधों में ऊपर की तरफ आना शुरू हो जाता है तो कुछ सुक्ष्म जीव भी तने से होकर ऊपर की तरफ आते है, यदि चूना लगा हो तो लाईम की वजह से वो चढ़ नहीं पाते और सफेद रंग की वजह से धूप भी रिफ्लैक्ट होती है यदि काला पैंट लगाया जाए तो धूप ऐबजौर्ब होगी जिस से तना सूख सकता है।

  4. Panjta ji, I don't agree on many nutritional things u mentioned.urea comes in nitrate form, in contact with moisture which is in the soil it gets converted into amonia form that plant can take easily.

  5. Panjta ji ne nutrition management pura compo expert(fert. company) walo ka ratta hua h 😂 aur baat Aati hai stem pasting ki to sunny areas m stem pasting Zaruri isliye Ho jaati h Kyu k Jab leaf fall Ho jata h to UV Ray's direct tree trunk par padti h Jisse sunburn Ho Jaata h !

  6. चुना इस लिए लगाया जाता है ताकि पौधे का ताना सूरज की हानिकारक UV rays से बच पाए । और सर्दियों में ये पेड़ के ताने के लिए कोट का काम करता है । में आपकी बात से पूरी तरह सेहमत नही हुन , ये सेल्फी लेने के लिए नही पौधे को माइंस तापमान में क्षतिग्रस्त होने से बचने के लिए काम आता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close